Last Update : 14 11 2017 12:29:05 PM

बेटी ने शादी से किया इंकार तो पिता ने भून दिया गोलियों से

करीबी रिश्तेदार से था मार्टिना का प्रेम संबंध, जिससे पिता और भाई थे खासा नाराज, चाहते थे न हो प्रेम जगजाहिर और वे बदनामी से बच जाएं, इसलिए जल्द से जल्द कहीं और कर देना चाहते थे मार्टिना की शादी...

लखनऊ। मार्टिना के पिता ने उसे इसलिए गोलियों से भून डाला, क्योंकि उसने शादी करने से इंकार कर दिया था। बेटी का मना करना भाइयों और पिता को इतना खला कि उस पर ताबड़तोड़ 5 गोलियां दाग दीं, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

यह मामला लखनऊ का है, जहां 11 नवंबर को 28 वर्षीय मार्टिना की पांच गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। हालांकि पिता और भाइयों ने इसे आत्महत्या ठहराने की खूब कोशिश की, मगर पुलिस छानबीन में यह बात खुलकर सामने आई की उसे गोलियों से मारा गया है।

मामले की छानबीन कर रही पुलिस के मुताबिक मार्टिना हत्याकांड आॅनर किलिंग है। इस मामले में पुलिस ने मारी गई मार्टिना के पिता राकेश गुप्ता और भाइयों दीपक और निखिल उर्फ यश गुप्ता को शक की बिना पर गिरफ्तार कर लिया।

लखनऊ एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक अपनी इज्जत बचाने के लिए पिता राकेश गुप्ता और दोनों भाइयों ने मार्टिना को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने शुरुआती छानबीन के बाद बताया कि अपने किसी करीबी परिचित से मार्टिना का प्रेम संबंध चल रहा था, जिससे पिता और भाई खासा नाराज चाहते थे। वे चाहते थे कि यह प्रेम जगजाहिर न हो इसलिए जल्द से जल्द उसकी शादी कहीं और कर देना चाहते थे। इसी बात को लेकर जब मार्टिना ने पिता और भाइयों से बहस की तो अपनी इज्जत की खातिर उन्होंने उस पर गोलियां बरसा दीं।

पुलिस का यह भी कहना है कि आरोपियों द्वारा पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की गई। यह भी कहा कि मार्टिना हत्याकांड में और लोग भी शामिल हो सकते हैं, क्योंकि 5 गोली दागने के बाद पूरे परिवार ने वारदात को छिपाने और पुलिस गुमराह करने की पूरी कोशिश की। परिजनों ने शुरुआत में बताया था कि मार्टिना ने खुदकुशी की है।

इस मामले ने नया मोड़ तब लिया जब मार्टिना की मां मालती देवी ने पुलिस में अपने पति पर बेटी की हत्या करने का शक जाहिर किया। मालती का यह भी कहना है कि उनकी बेटी लंबे समय से सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रही थी, और चयन न होने के कारण वह डिप्रेशन में थी। इसलिए शादी भी नहीं करना चाहती थी।

गौरतलब है कि 28 वर्षीय मार्टिना सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रही थी। पुलिस का कहना है कि वह पिता पर इस बात का खुलासा करने का दबाव बना रही है कि आखिर उन्होंने किन स्थितियों में अपनी बेटी को ही मौत के घाट उतार दिया।

शुरुआती खोजबीन में पारिवारिक सूत्रों ने ही पुसिल को बताया कि मार्टिना की शादी की बात चल रही थी, लेकिन मार्टिना इससे नाराज थी। इसी बात को लेकर पिता और बेटी में कहा सुनी हुई, जिसके बाद गुस्साए पिता ने बेटी को गोली मार दी।

पुलिस को इस मामले में इसलिए भी संदेह हुआ, क्योंकि 11 नवंबर को सुबह साढ़े 8 बजे  मार्टिना की हत्या होने के बाद पुलिस को साढ़े 6 घंटे देरी से सूचना दी गई।

स्वास्थ्य विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रहे मार्टिना के पिता राकेश गुप्ता वीआरएस ले चुके हैं। कहा यह भी जा रहा है कि उनकी किसी घोटाले में संलिप्तता थी, जिसके कारण उन्होंने 2015 में ही वीआरएस ले लिया था। इस मामले को दबाने के लिए ही वो किसी अफसर से मार्टिना की शादी करवाना चाहते थे।

जनपक्षधर पत्रकारिता को सक्षम और स्वतंत्र बनाने के लिए आर्थिक सहयोग दें। जनज्वार किसी भी ऐसे स्रोत से आर्थिक मदद नहीं लेता जो संपादकीय स्वतंत्रता को बाधित करे।
Posted On : 14 11 2017 12:21:17 PM

समाज