Last Update : 24 11 2017 02:06:31 PM

महिला पुलिसकर्मी को लिंग परिवर्तन कर मर्द बनने की मिली इजाजत

अब ललिता बन जाएगी ललित और शादी कर पाएगा अपनी महिला पुलिसकर्मी प्रेमिका से

अपनी मांगों लेकर अदालत पहुंची पुलिसकर्मी के मामले को स्वत: संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने राज्य के गृह मंत्रालय को कहा कि इस मामले को सुलझाए और पुलिसकर्मी के सम्मान और अधिकारों को बहाल करे...

जनज्वार, महाराष्ट्र। राज्य के बीड जिले में माजलगाव पुलिस थाने में कार्यरत महिला पुलिस ललिता सालवे को लिंग परिवर्तन करने के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने अनुमति दे दी है। साथ ही उन्होंने ललिता को नौकरी में बनाए रखने का भी आदेश दिया है।

गौरतलब है कि बीड जिले में पदस्थ 28 वर्षीय महिला कॉन्स्टेबल ने 23 नवंबर को बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है कि वह लिंग परिवर्तन सर्जरी कराना चाहती है इसके लिए पुलिस विभाग द्वारा उसकी छुट्टियां मंजूर नहीं की जा रही हैं। उसने याचिका में यह भी कहा था कि पुलिस विभाग लिंग परिवर्तन के बाद उसे नौकरी पर रखने से मना कर रहा है।

याचिका के मुताबिक महिला पुलिसकर्मी ने कोर्ट ये कहा कि महाराष्ट्र पुलिस महानिदेशक को निर्देश दे कि वे उसकी छुट्टियां मंजूर करें और मेरी नौकरी को बहाल रखें।

अपनी अर्जी में ललिता सालवे ने बीड जिले के पुलिस अधीक्षक श्रीधर को यौन संचारित सर्जरी करने के लिए एक महीने की छुट्टी की अर्जी देते हुए अपील की थी कि सर्जरी के बाद उन्हें पुलिस बल में पुरुष पुलिस के रूप में भर्ती किया जाए।

चूंकि यह मामला अधीक्षक के अधिकार क्षेत्र में नहीं था, इसलिए उन्होंने महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक सतीश माथुर के पास इसके लिए आवेदन भेजा था। उन्होंने ललिता सालवे की अर्जी को खारिज कर दिया।

ललिता के मामले में पुलिस विभाग का कहना था कि ललिता की भर्ती महिला पुलिसकर्मी ग्रेड में हुई है और उसके मर्द बन जाने के बाद उसका नौकरी में बने रहना संभव नहीं है, क्योंकि उसकी लंबाई पुरुष पुलिसकर्मी के लिए 2 सेंटीमीटर कम है। इसलिए विभाग उसे छुट्टी नहीं दे रहा था पर अब मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद ललिता न सिर्फ लिंग बदलकर महिला से मर्द बन सकेगी बल्कि उसकी नौकरी भी जारी रहेगी।

गौरतलब है कि ललिता सालवे ने जे. जे अस्पताल में मनोचिकित्सकों से लिंग परिवर्तन के लिए परामर्श लिया तो चिकित्सकों ने उन्हें सलाह दी कि अगर वह लिंग परिवर्तन सर्जरी कराने के लिए मानसिक तौर पर तैयार हैं तो सर्जरी करवा लें। इसी के बाद ललिता सालवे ने अपने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से एक महीने का अवकाश सर्जरी हेतु मांगा था जिसे नामंजूर कर दिया गया।

अब ललिता को उम्मीद बंधी है कि उनकी नई पहचान ललित के बतौर कायम हो पाएगी। ललिता का कहना है कि सेक्स चेंज के ऑपरेशन के बाद उनका विवाह पुलिस विभाग में काम कर रहीं एक पुलिसकर्मी से ही होगा।

ललिता के मुताबिक मेरी महिला दोस्त की सहमति के बाद ही हमने सेक्स चेंज का आॅपरेशन करने का निर्णय लिया था और इस बाबत अपने विभाग में छुट्टियों के लिए आवेदन किया था।

ललिता सालवे और उनकी महिला दोस्त पुलिसकर्मियों के करीबी पुलिसकर्मियों का कहना है कि पुलिस बल में भर्ती के समय से ही दोनों में करीबी दोस्ती थी। दोनों ने एक ही पुलिस स्टेशन में लंबे समय तक काम किया था।

जनपक्षधर पत्रकारिता को सक्षम और स्वतंत्र बनाने के लिए आर्थिक सहयोग दें। जनज्वार किसी भी ऐसे स्रोत से आर्थिक मदद नहीं लेता जो संपादकीय स्वतंत्रता को बाधित करे।
Posted On : 24 11 2017 02:06:31 PM

समाज