Last Update : 10 12 2017 10:16:08 PM

सीआरपीएफ हत्याकांड में नया खुलासा, आरोपी जवान ने कहा मैंने नहीं चलाई कोई गोली

अपने 4 साथियों की हत्या के आरोपी सीआरपीएफ कॉन्सटेबल संत कुमार यादव ने क्या कहा, क्यों उनका खुलासा कर रहा है कुछ और इशारा, सुनिए उनका पूरा वीडियो

जनज्वार,छत्तीसगढ़। माओवाद प्रभावित छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के बासागुड़ा में जिस सीआरपीएफ जवान पर कल 9 दिसंबर को अपने चार साथियों गोलियों से भून देने का आरोप लगा था, उसने गोलियां चलाने से इनकार किया है।

जनज्वार को मिले वीडियो में सीआरपीएफ की 168वीं बटालियन में तैनात जवान संत कुमार यादव ने साफ—साफ कहा है कि कल 9 दिसंबर की शाम मैंने कोई गोली नहीं चलाई। वीडियो में बताए अनुसार आरोपी जवान का नाम संत राम नहीं बल्कि संत कुमार यादव है।

पुलिस के मुताबिक कॉन्सटेबल संत कुमार यादव का बीजापुर जिले के बासागुड़ा स्थित सीआरपीएफ कैंप में कल शाम अपने साथियों से किसी बात पर विवाद हो गया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि विवाद के बाद संत कुमार ने अपनी राइफल से फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में उसके पांच साथियों को गोली लगी जिसमें से चार की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घायल जवान की भी हालत नाजुक है।

हत्या के आरोप में गिरफ्तार किए जा चुके संत कुमार यादव ने मीडिया से मुलाकात में साफ—साफ कहा है कि मैं बेकसूर हूं, मैंने किसी की हत्या नहीं की। उनके इस बयान के बाद इस मामले में बिल्कुल नया मोड़ आ गया है और अब मामले में उच्चस्तरीय संलिप्तता जान पड़ रही है।

आज दोपहर मीडिया के कैमरों के सामने जवान ने स्वीकार किया कि उसे फंसाया जा रहा है। इस वीडियो के आने से पहले तक इस घटना में संत कुमार यादव को ही अपने साथियों पर गोली चलाने का दोषी माना जा रहा था।

लेकिन जवान संत कुमार का कहना है, 'मैं दो बजे से चार बजे तक अपनी ड्यूटी करने के बाद बैरक में लौट आया था और जैसे ही पानी लेने बाहर निकला मुझे गोलियों की आवाज सुनाई दी, जिसके बाद मैंने भी बाकी जवानों की तरह पोजीशन ले ली। लेकिन मुझे पकड़ लिया गया जबकि जिस बंदूक से गोली चली है वो बंदूक भी मेरी नहीं है।

संतराम का कहना है कि जवानों ने आपस में गोलियां चलाई हैं, जिससे ये घटना हुई है, लेकिन मैंने नहीं चलाई है। हालांकि जवान संत कुमार ने ये बात भी स्वीकार की है कि जवानों के बीच छोटी—मोटी अनबन होती रहती है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि हम किसी की जान ले लें। संत कुमार उत्तरप्रदेश के फिरोजाबाद के हैं। सीआरपीएफ ने मामले की जांच के लिए कोर्ट ऑफ इन्क्वारी के आदेश दे दिए हैं।

बस्तर के डीआईजी सुंदरराज ने कल घटना की पुष्टि करते हुए बताया था कि गोली चलाने वाले जवान से पूछताछ की जा रही है। मृतकों में एसआई विक्की शर्मा, एसआई मेघ सिंह, एएसआई राजवीर सिंह और जवान शंकर राव शामिल हैं। इनके अलावा एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हुआ। 

4 जवानों की हत्या के जुर्म में गिरफ्तार जवान संत कुमार यादव की पूरी बात विस्तार से

 

जनपक्षधर पत्रकारिता को सक्षम और स्वतंत्र बनाने के लिए आर्थिक सहयोग दें। जनज्वार किसी भी ऐसे स्रोत से आर्थिक मदद नहीं लेता जो संपादकीय स्वतंत्रता को बाधित करे।
Posted On : 10 12 2017 10:05:03 PM

जनज्वार विशेष