Last Update : 24 07 2017 11:38:30 AM

इतनी दरिंदगी कैसे कर सकती है एक सौतेली मां

वारदात पढ़ने के बाद आपको भी इस मां से नफरत हो जाएगी पर जब आप शांत होंगे और सोचेंगे तो एक बार लगेगा कि इस जालिम औरत को जेल से ज्यादा, मानसिक अस्पताल की जरूरत है, सजा से ज्यादा इसको सुधारने की जरूरत है...

बलरामपुर से फरीद आरज़ू की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश, बलरामपुर। यूपी के बलरामपुर में सौतेली माँ की क्रूरता सामने आई है जिसे देख और सुनकर किसी की भी रूह कांप जायेगी। इस सौतेली माँ ने मासूम बच्चियों पर जमकर कहर ढाया। पहले तो इन बच्चियों को रस्सियों में बांधकर पीटा, फिर मोमबत्तियों से मासूमों के फूल जैसे जिस्म को जलाया।

इतना ही नहीं इस डायन माँ ने कई बार मासूमों को नाली का गन्दा पानी तक पिलाया और कई कई दिन भूखा रखा। भूख और प्यास बर्दाश्त न कर पाने से एक मासूम की मौत हो गयी। इस घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी महिला की तलाश शुरू कर दी है।

पूरा मामला बलरामपुर के लोकहवा गाँव का है। महरुन्निशा की बेटी कमरुनिशा की शादी करीब 20 वर्ष पूर्व अय्यूब से हुई थी। 3 वर्ष पहले कमरुनिशा की मौत हो गयी। कमरूनिशा की मौत के बाद करीब 2 वर्ष पहले अय्यूब ने यास्मीन से शादी कर ली। अय्यूब अपने दो बेटों के साथ मुम्बई में मेहनत मजदूरी करता है, जबकि 4 छोटी बेटियां सौतेली माँ यास्मीन के साथ गाँव पर रहती थी।

पीड़ित बच्चियों और पड़ोसियों का कहना है कि सौतेली माँ अक्सर मासूमो को पीटते हुऐ जुल्म ढाती। यहाँ तक की अगर कोई बचाने के लिये आता तो उससे लड़ने लगती। यह सिलसिला पिछले काफी दिनों से चला आ रहा था। पीड़ित बच्चियों का कहना है कि उसकी सौतेली माँ अक्सर कई कई दिन तक उन्हें भूखों रखती। खाना—पानी माँगने पर नाली का गन्दा पानी पिलाती।

पीड़ित बच्चियों का कहना है कि कई दिन खाना—पानी न मिलने से उनकी 4 वर्षीय बहन नाज़िया ने दो दिन पहले भूख से दम तोड़ दिया। माँ की शक्ल में इस जालिम का कलेजा इतने पर भी ठंडा न हुआ और उसने 8 साल की भूखी मासूम बच्ची गुलनाज को गांव में किसी के घर खाना खाकर चली आने पर मुंह में कपड़ा ठूंसकर मोमबत्तियों से जिस्म को जलाया।

मानवता को हिलाकर रख देने वाली इस घटना की जानकारी किसी तरह पीड़ित बच्चियों की नानी को हुई तो उसने पुलिस को सुचना दी। पुलिस उसके घर पहुंची और उसने बच्चियों का हाल देखा तो रोंगटे खड़े हो गए। जबकि आरोपी महिला पुलिस के आने से पहले मौके से फरार हो गयी। महाराजगंज तराई थाना की पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी महिला की तलाश शुरू कर दी है।

पीड़ित बच्चियां इतनी दहशतजदा हैं कि ठीक से बोल भी नहीं पा रही हैं। गम्भीर रूप से जली गुलनाज को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहाँ उसका इलाज किया जा रहा है। इस घटना से एक बार फिर इंसानियत का सर झुक गया है।

Posted On : 24 07 2017 10:55:27 AM

जनज्वार विशेष