Last Update : 09 01 2018 08:11:33 AM

पूंजीपतियों में अडानी ने 2017 में कमाये सबसे ज्यादा पैसे

सरकार का जीडीपी घट रहा है, विकास दर नीचे जा रही है, पूंजीपतियों के कारण बैंकों का घाटा बढ़ता ही जा रहा है, लेकिन मोदी के चहेते पूंजीपति अडानी का मुनाफा 2017 में सर्वाधिक तेजी से बढ़ा है...

दिल्ली। जहां एक तरफ देश का आम इंसान नोटबंदी, जीएसटी जैसे तमाम सरकार द्वारा लादी गई योजनाओं के कारण दो जून की रोटी के लिए भी मोहताज हो रहा है, वहीं मोदी सरकार के चहेते पूंजीपतियों की संपत्ति में बेतहाशा वृद्धि हुई है।

साल 2017 में देश नोटबंदी से जूझ रहा था, मगर भारत के बड़े कारोबारियों में शुमार और नरेंद्र मोदी के खासमखास गौतम अडानी की संपत्ति सबसे तेजी से बढ़ रही थी। इस दौरान अडानी की संपत्ति में 125 फीसदी का इजाफा हुआ है। अडानी ही नहीं मोदी के प्रिय पूंजीपतियों में शुमार रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की संपत्ति में भी 80 फीसदी की भारी वृद्धि हुई है।

यह खुलासा ब्लूमबर्ग मीडिया ने अपनी एक रिपोर्ट में किया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत के सबसे बड़े पोर्ट ऑपरेटर—बंदरगाह संचालक— और अडानी समूह के सर्वेसर्वा गौतम अडानी की संपत्ति पिछले साल 124.6 फीसदी की गति से बढ़ी है। जनवरी 2017 में जहां उनकी संपत्ति 4.63 अरब डॉलर थी, वो दिसंबर 2017 के अंत तक पहुंचते—पहुंचते 10.4 अरब डॉलर (करीब 660 अरब रुपये) हो गई।

2017 में अडानी के बाद डी-मार्ट के मालिक राधाकृष्ण दमानी की संपत्ति में लगभग 80 फीसदी का उछाल आया। मार्च 2017 में दमानी की संपत्ति 3.88 अरब डॉलर थी जो दिसंबर में 6.96 अरब डॉलर (करीब 441.30 अरब रुपये) पहुंच गई।

इस मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी भी पीछे नहीं रहे। उनकी संपत्ति 2017 में 77.53 फीसदी बढ़ी। जनवरी 2017 में जहां उनकी संपत्ति 22.70 अरब डॉलर थी, वो दिसंबर 2017 में बढ़कर 40.30 अरब (करीब 2536 अरब रुपये) का आंकड़ा पार कर गई। दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में अंबानी फिलहाल 20वें स्थान पर हैं।

2017 में कुमार बिड़ला, अजीम प्रेमजी, उदय कोटक, विक्रम लाल और लक्ष्मी मित्तल की संपत्ति में क्रमश: 50.41, 46.72, 44.87, 44.03 फीसदी और 36.11 फीसदी का उछाल आया।

जनपक्षधर पत्रकारिता को सक्षम और स्वतंत्र बनाने के लिए आर्थिक सहयोग दें। जनज्वार किसी भी ऐसे स्रोत से आर्थिक मदद नहीं लेता जो संपादकीय स्वतंत्रता को बाधित करे।
Posted On : 09 01 2018 08:08:08 AM

राजनीति