Last Update : 09 08 2017 02:21:12 PM

अवाम का सिनेमा फेस्टिवल आज से शुरू

अयोध्या, जनज्वार। काकोरी एक्शन डे पर काकोरी केस के नायकों की याद में तीन दिनी 11वां अयोध्या फिल्म फेस्टिवल शुरू हो रहा है। डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय का स्वामी विवेकानंद सभागार इस ऐतिहासिक आयोजन का गवाह बनने जा रहा है।

कार्यक्रम संयोजक शाह आलम ने समारोह के बारे में बताते हुए कहा, समारोह में अमर क्रांतिकारी तात्या टोपे के वंशज विनायक राव टोपे, क्रांतिकारियों के द्रोणाचार्य के नाम से प्रसिद्ध गेंदालाल दीक्षित के प्रपौत्र डॉक्टर मधुसूदन दीक्षित, अमर शहीद ठाकुर रोशन सिंह की प्रपौत्री सरिता सिंह हिस्सा लेंगे। तीन दिवसीय कार्यक्रम में आजादी आंदोलन के क्रांतिकारियों के वंशजों का सम्मान किया जाएगा।

पहले दिन 'काकोरी केस के क्रांतिवीरों की विरासत और आज का समाज' विषय पर प्रख्यात इतिहासकार आलोक वाजपेयी, क्रांतिकारी लेखक सुभाष चंद कुशवाहा, क्रांतिकारी डॉक्टर गया प्रसाद कटियार के पुत्र क्रांति कुमार व अमर शहीद जमुना प्रसाद त्रिपाठी के पौत्र इंजीनियर राज त्रिपाठी का भी व्याख्यान होगा। अध्यक्षता कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित करेंगे। उसके बाद दस्तावेजी फिल्म इंकलाब का प्रदर्शन किया जाएगा।

फेस्टिवल के दूसरे दिन माउंटेन मैन दशरथ मांझी पर बनी दस्तावेजी फिल्म के प्रदर्शन से कार्यक्रम की शुरुआत होगी। उसके बाद क्रांतिकारी स्वर्गीय गेंदालाल दीक्षित जी के प्रपौत्र डॉक्टर मधुसूदन दीक्षित व अमर शहीद ठाकुर रोशन सिंह की प्रपौत्री सरिता सिंह को सम्मानित किया जाएगा। साथ ही काकोरी केस के अन्य नायकों के परिवार के सदस्यों का भी सम्मान होगा। सम्मान समारोह के बाद 'मास्साब' फिल्म का ट्रेलर लांच किया जाएगा। तथा अभिनेता निर्देशक आदित्य ओम सिनेमा और सरोकार पर बात करेंगे।

ग्यारहवीं अयोध्या फिल्म फेस्टिवल के समापन दिवस 11 अगस्त को कार्यक्रम की शुरुआत लघु फिल्मों "एक उड़ान" "मेला' व "मिट्टी" का प्रदर्शन से। "जन जन का मीडिया बदलाव का औजार" इस विषय पर चर्चा होगी जिस पर तमाम पत्रकारिता से जुड़ी हुई शख्सियतें अपने विचार प्रस्तुत करेंगी।

अवाम की कविता का पाठ मशहूर कवि स्वप्निल श्रीवास्तव के द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा। तीन दिवसीय अयोध्या फिल्म फेस्टिवल में शहीद-ए- वतन अशफाक की डायरी और काकोरी के मुकदमें के दस्तावेजों की प्रदर्शनी व चंबल घाटी की फोटो प्रर्दशनी भी देखने को मिलेगी।

Posted On : 09 08 2017 02:21:12 PM

संस्कृति